April 23, 2024

Today24Live

Voice Of All

कहां हैं अलीबाबा के अरबपति मालिक Jack Ma? चीन सरकार की 2 महीने पहले की थी आलोचना

News Desk: चीनी तकनीकी अरबपति और अलीबाबा के सह-संस्थापक जैक मा (Jack Ma) को लेकर हैरान करने वाली खबर आई है। इंटरनेशनल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, Jack Ma दो महीनों से लापता हैं। बताया जा रहा है कि दो महीनों से उन्हें किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में नहीं देखा गया। सबसे बड़ी बात ये है कि Jack Ma ने अक्टूबर 2020 में एक विवादास्पद भाषण दिया था। जिसमें चीन सरकार की नीतियों के खिलाफ Jack Ma ने बात कही थी। दरअसल नवंबर में Jack Ma को अपने टैलेंट शो ‘अफ्रीका के बिजनेस हीरोज’ के आखिरी एपिसोड में आना था, लेकिन Jack Ma नहीं पहुंचे। इसके बाद से Jack Ma को लेकर खूब चर्चाएं हो रही हैं। अलीबाबा के प्रवक्ता ने हालांकि टैलेंट शो से Jack Ma गैरमौजूदगी के बारे में अखबार फाइनेंशियल टाइम्स को बताया था कि बिजी शेड्यूल होने के कारण Jack Ma नहीं आ सके थे।

Jack Ma ने क्या कहा था चीनी नीति पर ?

Jack Ma ने 24 अक्टूबर, 2020 को एक भाषण में चीन के वित्तीय नियामकों और राज्य के स्वामित्व वाले बैंकों की आलोचना की थी। साथ ही उन्होंने व्यापार नवाचार के लिए चीन की विनियमन प्रणाली में सुधार लाने का की सिफारिश की थी। यही नहीं Jack Ma ने वैश्विक बैंकिंग नियमों की तुलना ‘पुराने लोगों के क्लब’ से की थी। Jack Ma ने कहा था कि आज की वित्तीय प्रणाली औद्योगिक युग की विरासत है। हमें अगली पीढ़ी और युवा लोगों के लिए एक नई स्थापना करनी चाहिए। हमें वर्तमान प्रणाली में सुधार करना चाहिए।

इसके बाद बताया जा रहा है कि राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने Jack Ma की बातों पर नाखुशी जाहिरी की थी। द वॉल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार, Jack Ma के भाषण के बाद राष्ट्रपति शी के सीधे आदेश पर ही नवंबर में Jack Ma की कंपनी के साथ $ 37 बिलियन करार को भी खत्म कर दिया गया था। यही नहीं बीजिंग ने Jack Ma की वित्तीय टेक कंपनी एंट ग्रुप को भी अपने परिचालन को वापस लाने का आदेश दिया।

इसके अलावा ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, 24 अक्टूबर की घटना के बाद Jack Ma को चीन में ही बने रहने की सलाह दी गई। क्रिसमस के मौके पर Jack Ma के अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग में जांच शुरू कर दी गई। डेली मेल यूके ने अपनी रिपोर्ट जारी करते हुए लिखा है कि एंटी-मोनोपॉली जांच के कारण अलीबाबा के शेयरों में भारी गिरावट आई है। परिणामस्वरूप चीन के सबसे धनी लोगों की सूची में जैक मा तीसरे पायदान पर आ गए।