April 20, 2024

Today24Live

Voice Of All

महागठबंधन छोड़ NDA के नाव में ‘मांझी’ सवार, हम पार्टी में टूट के आसार

PATNA: महागठबंधन में चल रही हम पार्टी की तकरार अब खत्म हो गई है। कई दिन से चल रहा क्यासो का दौर आखिर खत्म हो गया। हम के सुप्रीमो जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने पटना में प्रेसवार्ता कर महागठबंधन से अलग होकर एनडीए (NDA) में जाने का एलान कर दिया है। जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने बताया कि कोऑर्डिनेशन कमिटी बनाने के लिए मैंने काफी समय आऱजेडी (RJD) और कांग्रेस को दिया था। कोऑर्डिनेशन कमिटी बनाने के पक्ष में यह लोग नहीं थे। जिसके बाद हमने महागठबंधन छोड़नेका फैसला लिया।

हम पार्टी का जेडीयू में नहीं होगा विलय

जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने आगे की रणनीति के बारे में बताते हुए कहा कि हम (HAM) पार्टी का विलय जेडीयू में नहीं होगा। हम एनडीए के एलाइंस पार्टी के रूप में काम करेंगे। एनडीए में सीट बंटवारे के बारे में जीतन राम मांझी ने कहा कि सीट बंटवारा हो या अन्य बातें सभी समझौतों के साथ काम किया जाएगा। इसके साथ ही जीतन राम मांझी ने साफ कहा कि एनडीए में शामिल होने के लिए हमारी कोई शर्त नहीं है, हम यह साफ कर रहे हैं।

मांझी ने की नीतीश कुमार की तारीफ

आगे जीतन राम मांझी ने नीतीश कुमारी की तारीफ करते हुए कहा कि मुझे कहीं जाना ही है तो मैं नीतीश कुमार के साथ जाऊंगा। जेडीयू (JDU) के साथ जाना मेरा अमृत का घूट पीना जैसा है। बिहार में एनडीए की सरकार बने इसके लिए काम करूंगा। इसके बाद उन्होंने साफ कहा कि सीट के लिए हमने कोई ऐसी शर्त नहीं रखी है।

मांझी ने किया आरजेडी पर वार

जीतन राम मांझी ने बताया कि  हमारी पार्टी का विलय जेडीयू में नहीं होगा। हम एक गठबंधन के साथ जा रहे हैं। वहीं जीतन राम मांझी ने आरजेडी के आरोप का खंडन करते हुए कहा कि मेरे बेटे को एमएलसी बनाकर कोई एहसान नहीं किया गया है। लालू प्रसाद यादव ने मुझे पार्टी में रखवाया था। आरजेडी में भाई भतीजावाद और करप्शन है। लालू यादव पर तंज कसते हुए कहा कि मेरा बेटा 8 वीं पास नहीं है वो एमए पास है। महागठबंधन में रहकर कॉर्डिनेशन कमिटी बनाने के लिए पहले आरजेडी को कहा। जब आरजेडी ने हमारी मांग नहीं मानी तो हम कांग्रेस के पास गए और कांग्रेस ने भी कहा कि कुछ समय दीजिए, हम सबकुछ ठीक कर देंगे। लेकिन कांग्रेस पार्टी भी कॉर्डिनेशन नहीं बना पाई।

गठबंधन के फैसले पर लड़ूंगा चुनाव- मांझी

चुनाव लड़ने को लेकर जीतन राम मांझी ने पत्रकारों को बताया कि मेरी सोच है 75 वर्ष के बाद राजनेताओं को चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। मैं 75 साल से ऊपर का व्यक्ति हूं और मेरी राय है 80% की मैं चुनाव नहीं लरूं। मगर मैं गठबंधन में अगर हूं तो वहां पर जैसा फैसला होगा उसके अनुसार काम करूंगा।

मांझी के फैसले से पार्टी के कई नेता नाराज

जीतन राम मांझी के इस फैसले से हम पार्टी में पहले दिन ही सबकुछ ठीक नजर नहीं आ रहा है। मांझी के NDA में जाने के फैसले पर अभी से ही पार्टी में नाराजगी दिखने लगी है। हम के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष उपेंद्र प्रसाद ने बयान जारी करते हुए कहा है कि महागठबंधन छोड़कर मांझी जा रहे हैं साम्प्रदायिक गठबंधन में। जीतन राम मांझी का फैसला दुर्भाग्यपूर्ण है। मैं महागठबंधन में ही रहूंगा।

हम पार्टी में टूट के आसार

वहीं खबर है कि उपेंद्र प्रसाद के साथ कई अन्य नेता भी नाराज मांझी के फैसले से नाराज हैं। साफ है कि जीतन राम मांझी ने हम पार्टी के सभी नेताओं को विश्वास में लेकर ये फैसला नहीं किया है। जिसका परिणाम आने वाले दिनों में जल्द ही पार्टी में टूट के रूप में देखने को मिल सकता है।