June 18, 2024

Today24Live

Voice Of All

Corona Vaccination : क्या कोरोना वैक्सीन लगने के बाद गई वार्ड बॉय की जान, क्या कहता है पोस्टमार्टम रिपोर्ट ?

News Desk: पूरे देश में 16 जनवरी को कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) शुरू किया गया। इसके तहत अस्पताल के कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी गई थी। अबतक देश में 2 लाख से ज्यादा लोगों को कोरोना की डोज दी जा चुकी है। लेकिन 24 घंटे बाद ही इससे जुड़ी अलग अलग चौंकाने वाली खबरे आनी शुरू हो गई हैं। यूपी के अखबारों में छपी खबर के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccination) लगाने के अगले दिन ही एक वार्ड बॉय की मौत हो गयी है। जिससे पूरे स्वास्थ्य महकमा में खलबली मच गई।

बताया जा रहा है कि 46 वर्षीय वार्ड बॉय महिपाल को 16 जनवरी को मुरादाबाद में कोविशील्ड (Corona Vaccination) का टीका लगा था। वैक्सीन लगने 24 घंटे के अंदर ही अगले दिन उनकी तबीयत बिगड़ने लगी, इसके बाद महिपाल को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। महिपाल की मौत के बाद परिजनों का कहना है कि 17 जनवरी यानी रविवार की शाम उनकी तबीयत अचानक बिगड़ने लगी। इसके बाद तुरंत उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन उनकी जान नहीं बचाई जा सकी।

क्या कहता है पोस्टमार्टम रिपोर्ट ?

मुरादाबाद के जिला अस्पताल के वार्ड ब्वॉय महिपाल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हार्ट अटैक से मौत की बात कही जा रही है। मुरादाबाद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) डॉ एमसी गर्ग ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बारे में बताया कि महिपाल की मौत हार्ट अटैक से हुई है। इसका कोरोना के टीका (Corona Vaccination) से कोई लेना-देना नहीं है। 3 डाक्टरों की टीम ने महिपाल का पोस्टमार्टम कर ये रिपोर्ट दी है। इस पैनल में डा. शशि भूषण, डॉ. निर्मल ओझा और डा. आरपी मिश्रा शामिल थे। वहीं पोस्टमार्टम के बाद बिसरा को प्रिजर्व कर लिया गया है।  वहीं मुख्य चिकित्सा अधिकारी एससी गर्ग ने कहा है कि महिपाल को सीने में जकड़न और साँस लेने में दिक्कत हो रही थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल लाया गया था। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट भले ही हार्ट अटैक की बात कह रही हो लेकिन वार्ड ब्वॉय के परिजन ने साथ तौर पर आरोप लगा रहे थे कि वैक्सीन की वजह से ही जान गई है।

क्या है पूरा मामला ?

यूपी के मुरादाबाद जिला अस्पताल में तैनात वार्ड ब्वॉय महिपाल सिंह ने 16 जनवरी शनिवार को जिला अस्पताल केंद्र में कोरोना का टीका (Corona Vaccination) लगवाया। इसके बाद महिपाल ने नाइट ड्यूटी भी की। रविवार को ड्यूटी के बाद घर लौटने पर महिपाल को सांस लेने में तकलीफ और सीने में जकड़न महसूस हुई। इसके बाद उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी।  हालांकि महिपाल के बेटे विशाल ने यह स्वीकार किया कि उनको निमोनिया की शिकायत थी लेकिन टीके ने उनकी तबीयत अचानक बिगाड़ दी।

पिछले 24 घंटे में हुई 145 मौतें 

हिन्दुस्तान में पिछले 24 घंटे में COVID19 के 13,788 नए मामले मिले हैं, जिसके बाद पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,05,71,773 हो गयी है. वहीं पिछले 24 घंटों में 145 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,52,419 हो गई है. वहीं देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या अब 2,08,012 है और कुल डिस्चार्ज हुए मामलों की संख्या 1,02,11,342 है.