May 18, 2024

Today24Live

Voice Of All

मोकामा के टाल क्षेत्र में क्या कर रही है घुड़सवार पुलिस दस्ता ?

Mokama: बिहार में देखिए घुड़सवार दस्ता, ये अंग्रेजों का दौर नहीं, ये मोकामा की आज की तस्वीर है. घोड़े पर बैठा पुलिस और उसके हाथ में घोड़े की लगाम. खेतों के बीच लगातार दस्ता दल की निगरानी. ये तस्वीर देखकर सभी सोच रहे हैं आखिर ये मामला क्या है. ये घुड़सवार दस्ता तो देश के बॉर्डर पर दुश्मनों पर नजर रखने के लिए तैनात किया जाता है. लेकिन बिहार के मोकामा में आखिर हुआ क्या है. जो बॉर्डर पर दिखने वाला दस्ता खेतों में नजर आ रहा है.

तो चलिए अब आपको इसकी पूरी कहानी बताते हैं. मोकामा टाल क्षेत्र में इन दिनों रबी फसल की कटाई का वक्त है. पिछले कुछ सालों से भूमि विवाद में फसल कटाई के वक्त ही कई बार खूनी संघर्ष देखने को मिला है. इसी मद्देनजर पुलिस ने एक नया तरीका निकाला. घुड़सवार दस्ते को खेतों के साथ पूरे इलाके में नजर रखने की ड्यूटी दी गई है. ताकि शांतिपूर्ण तरीके से खेतों में फसल की कटाई हो सके. और कहीं भी भूमि विवाद को लेकर मामला बिगड़ता है तको वक्त रहते पुलिस मौक-ए-वारदात पर पहुंच जाएं.

घुड़सवार दस्ता खेत से लेकर खलियान तक कुछ देर में ही पहुंच सकती है. टाल क्षेत्र होने के कारण कई इलाकों में पुलिस की गाड़ी पहुंचने में काफी मुश्किल होती है. लेकिन घुड़सवार के लिए ये काम बेहद आसान हो जाता है. इसी को देखते हुए पुलिस ने ये नायाब तरीका निकाला है.

मोकामा प्रखंड के धनकडोभ हाई स्कूल में इस दस्ते का कैंप है. घुड़सवार दस्ता टाल क्षेत्र के चप्पे चप्पे की निगहबानी कर रहा है. रबी की फसल तैयार है. इसकी कटाई को लेकर कोई खूनी संघर्ष न हो, इसकी जिम्मेदारी घुड़सवार दस्ते पर है. ये दस्ता दिन रात पूरे इलाके में सिलसिलेवार तरीके से राउंड लगाते हैं. इस दस्ते को देखकर फसल कटाई करने वाले खुद को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं.