February 28, 2024

Today24Live

Voice Of All

बिहार में कोरोना की दूसरी लहर में हालात बेकाबू, 17 अप्रैल को सरकार ले सकती है बड़ा फैसला

Patna: पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कई मंत्रिमंडल के सहयोगी के साथ कोविड वैक्सीनेशन की दूसरी डोज लेने IGIMS पहुंचे. कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद मीडिया कर्मियों से बात करते हुए सीएम नीतीश ने कहा कि बिहार में प्रति दिन एक लाख से ज्यादा टेस्टिंग हो रही है और अब टीकाकरण का काम भी बड़े पैमाने पर किया जाएगा. बाहर से आने वाले लोगों की जांच की जा रही है. पूरा प्रशासन इस काम में लगा है और आपदा प्रबंधन विभाग को भी अलर्ट रहने को कहा गया है. 17 अप्रैल को सर्वदलीय बैठक होने वाली है  जिसमें कई मामलों पर विचार किया जाएगा.

वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों से अपील की जा रही है कि मास्क का इस्तेमाल कीजिए, दूरी बनाकर रखी है सैनिटाइजर का इस्तेमाल कीजिए. अब ग्रामीण इलाकों में भी संक्रमण शुरू हो गया है. बीमार लोगों के लिए हॉस्पिटल को चिन्हित कर बेड भी रिजर्व कराए जा रहे हैं,  स्थिति अगर और भी ज्यादा बिगड़ी तो जो भी कदम उठाना होगा उठाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि हम लोग खुद बराबर अपना कोरोना संक्रमण का जांच कराते रहते हैं.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा कि आज से आईजीआईएमएस में 50 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित कर दिया गया है और आज से यहां इलाज शुरू कर दिया जाएगा, कैंसर इंस्टिट्यूट में भी एक सौ बेड की व्यवस्था अगले दो दिनों में शुरू कर दी जाएगी, एनएमसीएच और गया में अनुग्रह नारायण हॉस्पिटल को कोविड हॉस्पिटल के तौर पर अगले दो दिनों में तैयार कर लिया जाएगा. मंगल पांडे ने यह भी कहा कि जन सहयोग की बहुत आवश्यकता है, बिहटा  के एस आई हॉस्पिटल में भी इलाज कि व्यवस्था की जा रही है.

दूसरी तरफ उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद ने कहा कि सरकार की प्रतिबद्धता बिहार की जनता के साथ है और उन्हें बेहतर इलाज उपलब्ध कराने को लेकर पूरी तरह से कार्रवाई की जा रही है. उन्होंने यह भी कहा कि 17 अप्रैल को सर्वदलीय बैठक में कई मुद्दों पर बातचीत होगी उसके बाद सरकार महत्वपूर्ण फैसले लेगी. उन्होंने कहा कि लोगों से अपील की जा रही है कि वह प्रोटोकॉल का पालन करें और आने वाले दिनों में जरूरत पड़ी तो और भी सख्ती बरती जाएगी.