April 23, 2024

Today24Live

Voice Of All

हमारे वीर शहीद मारते-मारते मरे हैं, व्यर्थ नहीं जाएगा जवानों का बलिदान : PM नरेंद्र मोदी

न्यूज़ डेस्क, दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख के एलएसी पर भारतीय जवानों की शहादत पर कहा कि हम कभी किसी को भी उकसाते नहीं हैं, लेकिन अपने देश की अखंडता और संप्रभुता के साथ समझौता भी नहीं करते हैं। जब भी समय आया है, हमने देश की अखंडता और संप्रभुता की रक्षा करने में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया है।

आगे प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत पूरी दृढ़ता से देश की एक एक इंच जमीन की, देश के स्वाभिमान की रक्षा करेगा। हमने हमेशा से ही अपने पड़ोसियों के साथ एक cooperative और friendly तरीके से मिलकर काम किया है। हम कभी किसी को भी उकसाते नहीं हैं, लेकिन हम अपने देश की अखंडता और संप्रभुता के साथ समझौता भी नहीं करते हैं।
हमारे लिए भारत की अखंडता और संप्रभुता सर्वोच्च है, और इसकी रक्षा करने से हमें कोई भी नहीं रोक सकता।

पीएम मोदी ने बुलाई है 19 जून को सर्वदलीय बैठक

पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन की सीमा पर मौजूदा हालात पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री ने 19 जून को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक ‘भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में स्थिति पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 जून को शाम 5 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है। विभिन्न राजनीतिक दलों के अध्यक्ष इस बैठक में शामिल होंगे।

सीमा पर हिंसक झड़प में 40 से ज्यादा चीनी सैनिक भी ढेर

पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में सोमवार रात को भारत-चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में चीन के कमांडिंग अफसर को भी ढेर कर दिया गया। वहीं, न्यूज एजेंसी एएनआई ने एक बार फिर से बताया है कि इस घटना में 40 से ज्यादा चीनी सैनिक मारे गए हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने सू्त्रों के हवाले से बताया कि जो सैनिक टकराव का हिस्सा थे, उन्होंने चीन के हताहत हुए सैनिकों की संख्या के बारे में बताया है। हालांकि, सही संख्या कितनी है, यह तो सामने नहीं आया है लेकिन 40 से अधिक चीनी सैनिक झड़प में मारे गए हैं।