May 18, 2024

Today24Live

Voice Of All

GAYA: ओटीए में बेहतर प्रशिक्षण करने वाले कैडेट्स को किया गया सम्मानित, 13 जून को पासिंग आउट परेड में 17 कैडेट्स होंगे पास आउट, लॉकडाउन के कारण नहीं होगी मल्टी एक्टिविटी डिस्प्ले।

प्रदीप कुमार सिंह, गया: गया-डोभी मुख्य सड़क मार्ग पर पहाड़पुर गांव के समीप स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी (ओटीए) में प्रशिक्षण के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने वाले कैडेट्स को सम्मानित किया गया। ओटीए के कमांडेंट सुनील श्रीवास्तव के द्वारा कैडेट्स को सम्मानित किया गया। इस मौके पर ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी के कमांडेंट सुनील श्रीवास्तव ने कहा कि ऑफिसर प्रशिक्षण अकादमी, गया में जेंटलमेन कैडेट्स के सफलता पूर्वक संपन्न सैन्य प्रशिक्षण के बाद आगामी 13 जून को 17वीं पासिंग आउट परेड का आयोजन किया जायेगा। इस पासिंग आउट परेड में स्पेशल कमीशन ऑफिसर (एससीओ)-44 के 17 जेंटलमैन कैडेट भारतीय सेना में कमीशन प्राप्त करेगें। इसके अतिरिक्त टेक्निकल इंट्री स्कीम (टीईएस)-35 के 81 जेंटलमैन कैडेट जिन्होंने अपना एक वर्ष का बुनियादी सैन्य प्रशिक्षण, जून 2017 में इस अकादमी से पूरा किया, वे कैडेट अपने कैडेट प्रशिक्षण विंग, मिलिट्री कॉलेज ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड मैकनिकल इंजीनियरिंग, सिकंदाराबाद, मिलिट्री कॉलेज ऑफ टेलिकम्यूनिकेशन्स इंजीनियरिंग, मऊ एवं कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग, पुणे से पास आउट होंगे।

कमांडेंट सुनील श्रीवास्तव ने बताया कि इस बार खास बात यह है कि इस बार के पासिंग आउट परेड में कोरोना संक्रमण की मार देखने को मिली। यही कारण है कि 13 जून को आयोजित होने वाले 17वें पासिंग आउट परेड में ओटीए, गया से मात्र 17 कैडेट्स ही सेना में कमीशन प्राप्त करेंगे। शेष 81 कैडेट्स को उन्हीं प्रशिक्षण संस्थानों में कमीशन प्रदान किया जाएगा। जहां वे प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा 5 भूटान देश के बीच एडिट से जो कमीशन प्राप्त करेंगे। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन को लेकर इस बार मल्टी एक्टिविटी डिस्प्ले का आयोजन नहीं किया जाएगा। इसके अलावा जो कैडेट्स के माता-पिता इस मौके पर उपस्थित रहते थे, वे भी इस बार नहीं आएंगे। इस बार चैनल, यूट्यूब के माध्यम से ही वे लोग कार्यक्रम को देख पाएंगे।

वहीं ओटीए के अंतिम पासिंग आउट परेड होने के सवाल पर कमांडेंट सुनील श्रीवास्तव ने कहा कि ओटीए को दूसरी जगह विलय करने को लेकर मामला विचाराधीन है। इस संबंध में पूर्व में आर्मी के प्रवक्ता के द्वारा बयान जारी किया जा चुका है। मैं अपने स्तर से इस संबंध में कोई भी टिप्पणी नहीं कर सकता हूं। वहीं उन्होंने कहा कि लॉक डाउन को देखते हुए कार्यक्रम पूरी तरह सादगी से होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का भी अनुपालन किया जाएगा।