April 22, 2024

Today24Live

Voice Of All

अंसारी महापंचायत का सियासी पार्टियों को अल्टिमेटम, विधानसभा में 5 नहीं तो 25 सीट पर लड़ेंगे चुनाव

PATNA: बिहार में चल रहे विधानसभा चुनाव की तैयारी के बीच अंसारी महापंचायत ने जदयूनीत एनडीए या राजदनीत महागठबंधन से आगामी विधानसभा चुनाव में 5 सीटों की मांग की है और इसके लिए दोनों गठबंधनों से 10 दिनों में फैसला करने की अपील की है। गठबंधन नहीं होने पर महापंचायत ने 25 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का एलान किया है। अंसारी महापंचायत के संयोजक वसीम नैयर अंसारी ने राजधानी पटना में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अंसारी महापंचायत की कोर कार्यकारिणी की बैठक में सर्वसम्मति से इस संबंध में निर्णय लिया गया है।

वसीम नैयर अंसारी ने आरोप लगाया कि राजनीतिक दलों की उदासीनता के कारण आज राज्य में विधानसभा की 243 और विधान परिषद की 75 सीटें है लेकिन इन सीटों में से एक भी विधायक या विधान पार्षद अंसारी समाज से नहीं है जो इस समाज के साथ सबसे बड़ी नाइंसाफी है। इसी प्रकार लोकसभा की 40 और राज्यसभा के 16 सदस्य भी बिहार से आते हैं लेकिन इसमें भी अंसारी समाज को एक भी प्रतिनिधित्व नहीं मिला है। जबकि अंसारी समाज की आबादी पूरे बिहार में लगभग 11 प्रतिशत है लेकिन इसके बावजूद चारो सदन में प्रतिनिधित्व शून्य होना बेहद चिंताजनक है लेकिन इस स्थिति को अब बदलने का अंसारी महापंचायत ने मजबूत निर्णय लिया है।

वसीम नैयर अंसारी ने आगे कहा कि आबादी के हिसाब से यादव समाज के बाद दूसरी सबसे बड़ी आबादी अंसारी समाज का है। बिहार में 42 विधानसभा ऐसा है जहां अंसारी समाज की आबादी 25 हज़ार से लेकर 70 हज़ार तक है। उन्होंने कहा कि हमारे समाज को वोट बैंक के रूप में सभी राजनीतिक पार्टियां इश्तेमाल करती आयी है। इसलिए राज्य कार्यकारिणी की मीटिंग में यह फैसला लिया गया है कि इस बार अंसारी महापंचायत 5 नहीं तो 25 विधानसभा सीट पर अपना उम्मीदवार मैदान में उतारेगा।

25 सीटों का किया गया चयन

महापंचायत ने अपने संभावित 25 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार देने का फैसला किया है। रफीगंज, कुर्था, महुआ, वारिशनगर, पालीगंज, गुरुआ, उजियारपुर, अलीनगर, नाथनगर, भागलपुर सदर, कांटी, जहानाबाद, ढाका, छातापुर, बछवाड़ा, अरवल, झाझा, ओबरा, टेकारी, अतरी, बिहारशरीफ, बड़हरिया, फरबेसगंज, परिहार, बाराचट्टी इत्यादि सीटों पर उम्मीदवार का चयन हो चुका है जिसकी घोषणा अगले प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया जाएगा। इस संबंध में महापंचायत के संरक्षक खुर्शीद अकबर ने कहा कि महापंचायत का यह निर्णय है कि बिना चुनाव लड़े महापंचायत की राजनीतिक भागीदारी की बात सुनिश्चित नहीं हो सकेगी। इसलिए महापंचायत पहले गठबंधन में शामिल होकर ही चुनाव लड़ना चाहता है । और इसके लिए हमलोग राजनीतिक पार्टियों से तालमेल को लेकर लगातार संपर्क में है, जो हमारे समाज को उचित भागीदारी कम से कम 5 सीट देगा हमलोग उसके साथ जाएंगे। हमारी पहली प्राथमिकता महागठबंधन है,यदि हमारी मांग यहाँ नहीं मानी जाती है या जदयू भी हमारी मांगों को अनसुना करता है तो तीसरा मोर्चा यूडीए से भी अंसारी महापंचायत गठबंधन कर सकता है।

पटना के एक निजी होटल में बुधवार को अंसारी महापंचायत, बिहार के बैनर तले प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। इस मौके पर संस्थापक सदस्य डॉ० रज़ि अहमद अंसारी, संगठन सचिव जमालुद्दीन अंसारी, स्टार प्रचारक अब्दुल वहाब उर्फ बिग्गु अंसारी, मगध प्रमंडल अध्यक्ष डॉ० फजलुर रहमान अंसारी, दरभंगा प्रमंडल प्रभारी असरार दानिश, अध्यक्ष नौशाद अंसारी, गया जिलाध्यक्ष एहसान अंसारी, वैशाली जिलाध्यक्ष अरशद अंसारी, समस्तीपुर जिलाध्यक्ष शाकिर अंजुम, जिला प्रधान महासचिव कमरुल हसन अंसारी, औरंगाबाद जिलाध्यक्ष इमरान अंसारी, जमुई प्रभारी रकीब अंसारी, मास्टर आरिफ रज़ा, ग़ुलाम सरवर, सद्दाम हुसैन अंसारी, तौफ़ीक़ अंसारी, शाहनवाज़ अंसारी, क़ैसर आलम अंसारी, नुमान अख़्तर, न्यूटन अंसारी इत्यादि मौजूद थे।