April 14, 2024

Today24Live

Voice Of All

GAYA, SHERGHATI: युवाओं ने पेश की इंसानियत की मिसाल, 24 घंटे से भूखे प्रवासी मजदूरों की खिलाया खाना।

राम प्रवेश कुमार, शेरघाटी, गया: कोरोना जैसे महामारी में भी कोई प्रवासियों के बीच राहत सामाग्री वितरण कर मिशाल कायम करने में लगा है।

हम बात कर रहे हैं शेरघाटी के समाज सेवी सह जिला महासचिव युवा कांग्रेस बिहार जिशान उद्दीन खान की। दरअसल उड़ीसा के रावलकिला से ट्रक पर सवार होकर दिल्ली जा रहे 60 से 65 मजदूरों का जत्था शेरघाटी प्रखंड के जीटी रोड अकौना गांव के समीप रुका था । ट्रक पर सवार सभी मजदूर 24 घंटे से भूखे थे, जिसकी जानकारी जीशान को बांकेबाजार जिला पार्षद अयूब अली खान के माध्यम से मिली। फिर क्या था, जिशान रमजान में इफ्तार के लिए बैठे ही थे। उन्हें ख्याल आया कि मैंने 14 घंटे से ही रोज रखा है मगर जो प्रवासी मजदूर आये हैं, पता नहीं वो कब से भूखे होंगें। यही सोच कर उन्होंने अपने छोटे भाई समर और बड़े भाई सोहराब खान, फिरोज के साथ 2 लीटर वाली 75 बोतल पानी , बिस्किट के साथ अन्य सामग्री लेकर प्रवासी मजदूरों के बीच पहुंचे। वहां जा कर उन्होंने देखा कि 15 से 20 छोटे बच्चे भी मजदूरों के साथ थे, जो भूख से काफी रो रहे थ। बच्चों को भूखा देखकर सभी के रोंगटे खड़े हो गए।

इसके बाद सभी ने मिल कर बच्चों और मजदूरों के बीच खाना बांटा। उन्हें पानी पिलाया। बिना भेद भाव और जाति-धर्म देखे सभी ने प्रवासी मजदूरों की मदद की और उन्हें खाना खिलाया। ये देख सव्ही मजदूरों ने उनका धन्यवाद दिया। इलाके के युवाओं के इस जज्बे को देख सभी आज उनकी चर्चा कर रहे हैं और उन्हें शब्बासी दे रहे हैं।