April 22, 2024

Today24Live

Voice Of All

Gaya lockdown: तेलंगाना से 12 सौ मजदूरों को लेकर स्पेशल ट्रेन पहुंची गया, सभी को स्क्रीनिंग के बाद भेजा गया अपने अपने जिला।

प्रदीप कुमार सिंह, गया: तेलंगाना से 12 सौ मजदूरों को लेकर स्पेशल ट्रेन पहुंची गया,रेलवे स्टेशन पर सभी मजदूरों की हुई स्क्रीनिंग,मगध प्रमंडल के अलावा बिहार के कई जिलों के हैं मजदूर,मजदूरों ने कहा- लॉक डाउन के कारण खाने-पीने के पड़ गए थे लाले।

गया: लॉक डाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे बिहारी मजदूरों को लेकर स्पेशल श्रमिक ट्रेन गया रेलवे स्टेशन पहुंची।तेलंगाना से लगभग 12 सौ मजदूरों को लेकर स्पेशल ट्रेन आज अहले सुबह गया रेलवे स्टेशन पहुंची। रेलवे स्टेशन पर सभी मजदूरों की स्क्रीनिंग की गई। इसके बाद बस द्वारा उनके संबंधित जिलों में भेजा गया। हैदराबाद से आए मजदूर रंजीत कुमार और विक्की कुमार ने बताया कि वे लोग विभिन्न करखाने और ज्वेलरी दुकान में काम करते थे। लॉक डाउन के कारण कारखाने व दुकानें बंद हो गई थी। लगभग 1 महीने से खाने-पीने की समस्या उत्पन्न हो गई थी। जैसे तैसे गुजारा कर रहे थे। स्थानीय प्रशासन द्वारा कभी-कभार खाना दिया जाता था। बहुत दिनों से हमलोग घर आना चाह रहे थे। इस दौरान स्थानीय पुलिस द्वारा सूचना दी गई कि बिहार के गया के लिए स्पेशल ट्रेन जाने वाली है। जिसके बाद ट्रेन द्वारा गया पहुंचे हैं। सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर हमलोगों को टिकट दिया गया था। लेकिन टिकट के पैसे नहीं लिए गए। साथ ही खाने का पैकेट भी दिया गया। खाने के पैकेट के भी पैसे नहीं लिए गए। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मियों व रेलवे के लोगों द्वारा हमलोगों को टिकट दिया गया था। लेकिन किसी तरह के पैसे नहीं लिए गए। गया रेलवे स्टेशन पर भी खाने का पैकेट और पानी की बोतल दी गई है। जिसका पैसा नहीं लिया गया। उन्होंने कहा कि बस द्वारा घर जाने की व्यवस्था की गई है। घर वापस आने की काफी खुशी है।

वहीं जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने कहा कि लगभग 12 सौ मजदूरों को लेकर स्पेशल ट्रेन गया पहुंची है। इसमें गया, औरंगाबाद, नवादा, जहानाबाद, अरवल, कैमूर, बक्सर, रोहतास, भोजपुर सहित कई जिलों के मजदूर हैं। सभी मजदूरों की स्क्रीनिंग की जा रही है। जांच के बाद बस द्वारा उनके जिला मुख्यालय भेजा जाएगा। जहां उन्हें कोरिंटीन सेंटर में रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में भी कई ट्रेनों से मजदूरों और छात्रों को गया रेलवे स्टेशन लाया जाएगा। इसे लेकर रेलवे स्टेशन पर व्यापक तैयारी की गई है। आरपीएफ, जीआरपी के अलावा स्वास्थ्य विभाग के लोग तैनात किए गए है।