May 29, 2024

Today24Live

Voice Of All

GAYA: क्वारंटाइन सेंटर में नहीं मिल रही है अप्रवासी मजदूरों को सुविधा। मजदूरों ने किया सड़क जाम। उड़ीसा का प्रवासी मजदूर घर जाने के लिए लगा रहा गुहार।

पुरूषोत्तम, गया: जिले के डुमरिया प्रखंड के मैगरा मध्य विद्यालय में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर पर प्रवासी मजदूरों ने किया सड़क जाम, कुछ दिन पहले भी आईटीआई क्वारंटाइन सेन्टर पर प्रवासी मजदूरों ने भोजन के शिकायत को लेकर किया था जाम । दरअसल मैगरा मध्य विद्यालय में बनाए गए क्वारंटाइन सेन्टर में टोटल 147 लोग अभी तक आए हैं। जिसमें महिला कि संख्या 10 है। क्वारंटाइन से 21 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है। प्रवासी मजदूरों ने आरोप लगाते हुए बताया कि जो खाना दिया जा रहा है उसकी गुणवत्ता अच्छी नहीं है। सरकार पौष्टिक आहार देने की घोषणा करती है। मगर यहां कुछ नहीं मिल रहा है। जो क्वारंटाइन सेंटर की अवधि पूरा कर घर जा रहे हैं, उन लोगों को सरकारी सहायता राशि भी नहीं दिया जा रहा है, और न ही कपड़ा दिया जा रहा है।

एक चापाकल और एक शौचालय है और मजदूरों की संख्या काफी है जिससे दिक्कत हो रही है। साथ ही साफ सफाई भी यहां सही ढंग से किया जा रहा है। कुछ मजदूरों का आरोप लगाया है कि रात्रि में खुले छत में सोते हैं। बहुत मच्छर काटता है, जो लोग पहले कई दिनों से रह रहे हैं, उसी कमरे में नए लोगों को रखा जा रहा है । एक ही शौचालय है और लगभग डेढ़ सौ की संख्या में प्रवासी मजदूर हैं। एक साथ रहने में काफी तकलीफ हो रही है। संक्रमण का भय बना हुआ है। सोशल डिस्टेंसिंग का कोई ख्याल नहीं रखा जा रहा है।

उड़ीसा के रहने वाले कलनाद प्रवासी मजदूर गया जिले के बाराचट्टी में बोरवेल का काम कई महीनों से कर रहा था। किसी तरह से मैगरा क्वारंटाइन सेन्टर पहुंचा, कुछ दिन क्वारंटाइन सेन्टर में रहने के बाद वह घर जाने के लिए लगातार गुहार लगा रहा है लेकिन सुनने वाला नहीं।